सोमवार, 30 जुलाई 2012

सरदार को एक रुपया भीख दे देना..!

कुछ दोस्त मिलकर डेल्ही घूमने का प्रोग्राम बनाते है और रेलवे
स्टेशन से बहार निकलकर एक टेक्सी किराए पर लेते है , उस
टेक्सी का ड्राइवर बुढ्ढा सरदार था,

यात्रा के दौरान बच्चो को मस्ती सुजती है और
सब दोस्त मिलकर बारी बारी सरदार पर बने
जोक्स को एकदुसरे को सुनाते है

उनका मकसद उस ड्राइवर को चिढाना था . लेकिनवो बुढ्ढा सरदार चिढाना तो दूर पर उनके साथ
हर जोक पर हस रहा था ,
सब साईट सीन को देख बच्चे वापस रेलवे स्टेशन आ जाते है ...और तय
किया किराया उस सरदार को चुकाते है , सरदार
भी वो पैसे ले लेता है , पर हर बच्चे को अपनी और से एक एक
रूपया हाथ में देता है

एक लड़का बोलता है "पाजी हम सुबह से आपकी कोम
पर जोक मार रहे है , आप गुस्स्सा तो दूर पर हर जोक में
हमारे साथ हस रहे थे , और जब ये यात्रा पूरी हो गई आप हर लडके
को प्यार से एक-एक रूपया दे रहे है , ऐसा क्यों ? "

सरदार बोला " बच्चो आप अभी जवान
हो आपका नया खून है आप मस्ती नहीं करोगे तो कौन
करेगा ? लेकिन मेने आपको एक- एक रूपया इस लिए दिया के जब
वापस आप अपने अपने शहर जाओगे तो ये रूपया आप उस सरदार
को दे देना जो रास्ते में भीख मांग रहा हो ,
इस बात
को दो साल हो गए है और जितने लडके डेल्ही घूमने गए थे सब
के पास वो एक रुपये का सिक्का आज भी जेब में
पड़ा है ...उन्हें कोई सरदार भीख
मांगता नहीं  मिला .

 

11 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत बढ़िया लिखा है. इससे हमें सीख मिलती है.

    उत्तर देंहटाएं
  2. हां सच है ये....
    कितने जोक मार लें हम उन पर पर मगर उन सा जिंदादिल और मेहनती कोई नहीं...

    अनु

    उत्तर देंहटाएं
  3. सरदार हमेशा मेहनती होते है,
    मैंने आज तक किसी सरदार को भीख माँगते हुए नही देखा,,,,

    RECENT POST,,,इन्तजार,,,

    उत्तर देंहटाएं
  4. वाह, बहुत सही, बहुत सही सीख।
    आज ही हम एक दोस्त इस बात की चर्चा कर रहे थे।

    उत्तर देंहटाएं
  5. बिल्कुल सही, सरदार मेहनत की कमाई खाते हैं ।

    उत्तर देंहटाएं
  6. यह बहादुर कोम मेहनत की खाते है, लूट की नहीं, भीख तो कभी नहीं

    उत्तर देंहटाएं
  7. सरदार मेहनतकश होते हैं ... बहुत अच्छी सीख देती पोस्ट

    उत्तर देंहटाएं
  8. जो बोले सो निहाल ... शत श्री आकाल ... श्री वाहे गुरु जी दा खालसा ... श्री वाहे गुरु जी दी फ़तह !!

    बेहद असरदार पोस्ट है जी ... जय हो !

    उत्तर देंहटाएं
  9. आपका लिखा बहुत कुछ सिखा जाता है ... दूर की बात लिखी है आपने ...

    उत्तर देंहटाएं

ab apki baari hai, kuchh kahne ki ...

orchha gatha

बेतवा की जुबानी : ओरछा की कहानी (भाग-1)

एक रात को मैं मध्य प्रदेश की गंगा कही जाने वाली पावन नदी बेतवा के तट पर ग्रेनाइट की चट्टानों पर बैठा हुआ. बेतवा की लहरों के एक तरफ महान ब...